गर्मियों के लिए आयुर्वेदिक best energy drink - Healthy India — With Ayurvedic Care

Latest

Thursday, March 19, 2020

गर्मियों के लिए आयुर्वेदिक best energy drink

तो दोस्तो जैसा कि आप जानते हैं कि अब गर्मियां शुरू हो रही हैं और गर्मियों में हम ज़्यादा पानी पीने की कोशिश करते हैं क्योंकि प्यास ज़्यादा लगती है। हम काफी ज्यादा पानी पीते हैं फिर भी कई बार क्या होता है कि हमारे शरीर के अंदर पानी की कमी (dehydration) हो जाती है। गर्मियों में हम अक्सर फल वगेरा खाते हैं और फलों का juice भी पीते हैं लेकिन ये थोड़ा expensive (महँगा) हो जाता है और हम इतने महँगे समान यानी कि fruite juice को अपने दैनिक कार्य शैली में उपयोग नही कर पाते हैं।

Best Energy Drink


तो इसिलए आज में आपको एक ऐसी आयुर्वेदिक drink बताऊंगा जो कि मात्र 30 सेकेंड में बन जाएगी और इतनी सस्ती है कि कोई भी afford कर सकता है और आयुर्वेद का भरोसा भी है इस ड्रिंक पर। बात करें यदि इस drink के फायदे की तो पूरे दिन के खाये हुए फल fruit एक तरफ और अकेले इस drink की ताकत एक तरफ। में बात कर रहा हुँ आम भाषा मे कहे जाने वाले सत्तू (barley) के बारे में ।

तो दोस्तो आप समझ ही गए होंगे कि सत्तू पैसों में भी किफायती है और आयुर्वेदिक है तो इसके फायदे तो अनगिनत है ही। सत्तू कोई नई चीज नही है इसका उपयोग बहुत पुराने समय से होता आ रहा है आप यदि अपने पिता जी या दादा जी से पूछेंगे सत्तू के बारे में या घर के किसी बड़े बुज़ुर्ग से पूछेंगे तो वह अवश्य ही आपको बता देंगे क्योंकि सत्तू का उपयोग उन्होने भी कभी न कभी अपनी life में किया ही होगा।

सत्तू आज भी उतना ही फायदेमंद और popular है जीतना पहले था लेकिन popular उन्ही लोगों के बीच है जो लोग इसके बारे में जानते हैं जो नही जानते उन्हें क्या पता सत्तू के फायदे मतलब वही वाली बात की बन्दर क्या जाने अदरक का स्वाद। आज आपको में सत्तू के फायदे बताने वाली हु और इसके फायदे जानकर आप ज़रूर इसको अपने जीवन में उपयोग में लेंगे। सत्तू से होने वाले फायदे की एक लंबी list है जिसमे से आपको आज कुछ फायदे हम यह पर बताएंगे ।

सत्तू से होने वाले फायदे 


दोस्तो सत्तू के अंदर fiber और carbohydrates बहुत ही अच्छी मात्रा पाई जाती है । सत्तू से बना हुआ शरबत स्वास्थ्य और शरीर के लिए बहुत ही लाभकारी होता है यह आपके शरीर मे पानी की कमी को भी दूर कर देता है ।

सत्तू का शरबत कैसे बनाते हैं?


तो दोस्तो हमे यह तो पता चला कि सत्तू से बना हुआ शरबत बहुत ही फायदेमंद होता है लेकिन आप बात कर लेते हैं कि इसको बनाते कैसे हैं इसको खरीदना कहा से है।

आप किसी भी किराना की दुकान (general store) से सत्तू का आटा खरीद सकते हैं। actually सत्तू कोई अलग से पदार्थ नही होता है बल्कि यह भुने हुने (baked) चने(gram) का आटा होता है। दोस्तो चना (gram) को आप चाहे भून कर खाएं अंकुरित कर के खाये या boil करके खाये यह हर प्रकार से आपके लिए फ़ायदेम ही साबित होता है।

चने को भून कर जब हम उसका आटा बना कर उसको पानी मे घोल कर पीते हैं तो दोस्तो उसी को हम सत्तू कहते हैं।

तो दोस्तो आपको 1 गिलास पानी लेना पानी अपनी मर्ज़ी से आप normal या ठंडा जैसा मैन करे आपका आप ले सकते हैं।

अब उसमें सत्तू का आटा मिला कर उसको अच्छी तरह से mix कर लें।
उसमे आप अपने स्वाद अनुसार शहद रूहअफजा या हल्की-फुल्की चीनी मिला सकते है क्योंकि सत्तू जो है वो बिल्कुल फीका होता है तो शायद आपको इसका taste पसन्द ना आये इसलिए आपको जो उपयुक्त लगे आप मिला लें उसमे।
यदि आप बिना कुछ मिलाये पीना चाहे तो भी इसको पी सकते हैं।

सत्तू के शरबत के फायदे


दोस्तो सत्तू के शरबत को पीने से बहुत से फायदे हैं जिनमें से कुछ नीचे लिखे हैं:

सत्तू का आटा या शरबत हमारे digestion system यानी के पाचन तंत्र को बिल्कुल ठीक रखता है । चने (gram) में fiber की मात्रा बहुत अधिक पाई जाती है, इसे पीसने के बाद बनाये जाने वाले सत्तू में भी fiber उतनी ही मात्रा में रहता है । गर्मियों के मौसम में इसको पीना बहुत ही फायदेमंड होता है, गर्म मसालेदार या oily खाने की वजह से अक्सर लोगों को जो अपच (indigestion) की समस्या हो जाती है। तो चने का सत्तू पीकर इस समस्या को बहुत आसानी से दूर किया जा सकता है।

मोटापे के लिए सत्तू , सत्तू में सभी जरूरी तत्व होते हैं जो कि सम्पूर्ण आहार के लिए ज़रूरी होते हैं। चने के सत्तू को खाने या पीने से लम्बे समय तक व्यक्ति को भूख नही लगती है और उसका पेट भरा-भरा से रहता है । जिससे आसानी से वज़न को भी कम किया जा सकता है। बहुत से लोग डायटिंग के चलते काफी समय तक भूखे रहते हैं इससे उनका वजन तो कम हो जाता है किंतु उनके शरीर के अंदर कमज़ोरी आ जाती है। और उनकी सेहत पर बि इसका बुरा असर पड़ता है।

Energy का भी एक बेहतरीन source माना जाता है सत्तू को। चने के सत्तू में बहुत से minerals जैसे की iron, मैग्नीशियम और फॉस्फोरस पाए जाते हैं। जो शरीर को instant energy provide करते हैं। विशेष कर तब जब आप इसमें निम्बू और थोड़ा सा नमक मिला कर आप इसको पीते हैं।

पेट को ठंडा रखने के लिए सत्तू बहुत ही ज़्यादा उपयोगी होता है । सत्तू की तासीर ठंडी होती है जिसकी वजह से गर्मियों में इसका सेवन सबसे ज़्यादा किया जाता है । इसमे मौजूद गुण गर्मियों में चलने वाली लू से हमारे शरीर की रक्षा करते हैं। 

No comments:

Post a Comment